आज मनाया जाएगा अन्तर्राष्ट्रीय स्वैच्छिक सेवा दिवस

भोपाल । आनन्द संस्थान मध्यप्रदेश द्वारा जारी निर्देशानुसार 5 दिसम्बर को अर्न्तराष्ट्रीय स्वैच्छिक सेवा दिवस के रुप में मनाया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने जिले के समस्त अधिकारियों, महाविद्यालयों के प्राचार्य और जिले के समस्त शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय एवं आनंदक तथा आनंद क्लब एवं सामाजिक संस्थाओं को विभिन्न गतिविधियों तथा कार्यक्रमों का आयोजन करने के लिये कहा है।
श्री लवानिया द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि वे अपने संस्थान, विभाग में कर्मचारियों एवं एनसीसी, एनएसएस, स्काउट गाईड, आनंदक, अन्य समाजसेवी संस्थाओं के द्वारा 5 दिसम्बर को स्वैच्छिक सेवा दिवस के रुप में मनाएं। इस अर्न्तराष्ट्रीय स्वैच्छिक दिवस पर सब अपने-अपने स्थान पर एक साथ मिलकर गतिविधियाँ, कार्यक्रम कर सकते हैं। जिसमें रचनात्मक गतिविधियाँ, वृद्धाश्रम में बुजुर्गों के साथ समय व्यतीत करना, अस्पतालों में मरीजों को फल-फूल देकर उनके जल्द स्वास्थ्य की कामना करना, सभी आनंदक मिलकर इस दिन को उत्सव के रुप में मनाना, स्वयं बनाकर या सार्वजनिक भोजनालय में भूखों को भोजन परोसने की गतिविधियां की जा सकती हैं। साथ ही सार्वजनिक स्थलों, जलस्त्रोतों, विद्यालय, अस्पताल, कॉलेजों, पार्क आदि पर स्वच्छता के कार्यक्रम, रक्तदान शिविर का आयोजन, स्वैच्छिक भाव से समाज को आनंद के प्रसार में विशिष्ट योगदान देने वाले व्यक्तियों का सम्मान भी किया जा सकता है। इन कार्यक्रमों तथा गतिविधियों में विद्यार्थी, गृहणी, व्यवसायी, वृद्ध स्वैच्छिक संस्थाओं के कार्यकर्ता, विभिन्न युवा वर्ग आदि शामिल हो सकते हैं।
 श्री लवानिया ने संबंधितों से कहा है कि अपने कार्यालय, संस्थान या स्थान पर राज्य स्वैच्छिक सेवा दिवस आयोजित कर स्वैच्छिक सेवा या मदद के भाव से जनमानस को समाज में प्रसारित प्रचारित करें। इसके साथ ही संपन्न कार्यक्रम की समस्त रिपोर्टिंग राज्य आनंद संस्थान की मेल आईडी या वाट्सएप नंबर पर प्रेषित करने के निर्देश भी दिये गये हैं। इन कार्यक्रमों और गतिविधियों के आयोजनों में कोविड-19 के नियमों का पालन पूर्णतः सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये हैं।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post