हमें कौवा नहीं कोयल बनना है : सिद्धांत

भोपाल । शिव कालिका मंदिर वार्षिक उत्सव एवं आरंभ श्री द्वारा संगीत में श्री भागवत कथा का चौथा दिन परम पूज्य श्री सिद्धांत जी महाराज ने भागवत कथा में कहा कि कौवा नहीं हमें कोयल बनना चाहिए । आज समय परिवर्तन की ओर है और हमारी वाणी इतनी मधुर कोयल की समान होनी चाहिए कि हम जिस सज्जन से मिले उसके अंदर हमारी छाप छोड़ जाएं क्योंकि जीवन का सही सार यही है कि हम सभी से हिल मिल जुल कर रहे श्रीमद् भागवत कथा में भीड़ उमर रही है। कथा में कलेक्टर की गाइडलाइन का पालन भी किया जा रहा है। सेनीटाइज एवं माक्स वितरण लगातार किया जा रहा है। कथा के आयोजक देवेंद्र योगी ने बताया की कथा में पूर्ण रूप से सावधानी बरती जा रही है । कार्यक्रम अध्यक्ष विनय जोगी ने बताया कि आज 52 अवतार एवं श्री राम अवतार एवं कृष्ण जन्म उत्सव का वर्णन किया गया एवं सुंदर झांकियां भी बनाई गई एवं श्री सिद्धार्थ जी महाराज ने मंच से यह भी कहा कि एक ईंट हम सभी घर घर घूम आएंगे और पूजन करवाकर उसे राम मंदिर के लिए अयोध्या लेकर जाएंगे क्योंकि धर्म सलामत रहेगा तो हम सुरक्षित रहेंगे । सभी भक्तजनों से निवेदन है कि अधिक से अधिक संख्या में पधार कर श्री मद भागवत कथा का आनंद एवं धर्म लाभ लें इस अवसर पर कार्यक्रम की संयोजक सरस्वती यदुवंशी एवं बलवंत यदुवंशी धर्म प्रेमी विशेष रूप से उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post