बैंक ऑफ बड़ौदा ने हाल ही लॉन्च किए गए अपने ‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी

पैकेज‘ के लिए रक्षा बलों के साथ किए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर
8200 से अधिक घरेलू शाखाओं के नेटवर्क के माध्यम से मिलेंगी ‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी पैकेज‘ की सेवाएं 

नई दिल्ली। देश में सार्वजनिक क्षेत्र के बड़े बैंकों में से एक बैंक ऑफ बड़ौदा ने भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल के साथ के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए और भारतीय सेना के साथ अपने वर्तमान एमओयू का नवीनीकरण किया है। यह समझौता ‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी पैकेज‘ के माध्यम से कस्टमाइज्ड बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराने के क्रम में किया गया है। बैंक ने भारतीय वायु सेना के साथ भी इसी तरह की व्यवस्था की है और इस तरह बैंक ने रक्षा मंत्रालय के तहत सभी चार सशस्त्र बलों को कवर कर लिया है। बैंक ने इसी तरह का पैकेज केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के लिए भी पेश किया है।

‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी पैकेज‘ के तहत भारतीय सशस्त्र बलों के सेवारत और सेवानिवृत्त कर्मियों को बैंक की 8200 से अधिक घरेलू शाखाओं के नेटवर्क और लगभग 20,000 बिजनेस काॅरेस्पोंडेंट के माध्यम से सेवाएं उपलब्ध हो सकेंगी। इस पैकेज में निशुल्क व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा कवर, स्थायी विकलांगता कवर, आंशिक विकलांगता कवर और बड़ी राशि के हवाई दुर्घटना बीमा के साथ-साथ सेवारत कर्मियों के मामले में उच्च शिक्षा से संबंधित कवर और लड़की के विवाह से संबंधित कवर सहित बहुत ही आकर्षक लाभ दिए गए हैं।

पैकेज के तहत उपलब्ध कराए गए अन्य आॅफर्स में सभी बैंकों के एटीएम में असीमित मुफ्त एटीएम लेनदेन, खुदरा ऋणों में विभिन्न सेवा शुल्क पर छूट/रियायतें, आरटीजीएस/एनईएफटी के माध्यम से निशुल्क रेमिटेंस सुविधा, निशुल्क डिमांड ड्राफ्ट/बैंकर चेक, लॉकर के किराए में पर्याप्त छूट, डीमैट खाते के मेंटीनेंस शुल्क में छूट शामिल हैं। साथ ही, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने पर भी विभिन्न अतिरिक्त लाभ दिए गए हैं।
इस अवसर पर बैंक के कार्यकारी निदेशक श्री विक्रमादित्य सिंह खिची ने कहा, ‘‘बैंक ऑफ बड़ौदा में हमें अपने सशस्त्र बलों को सेवाएं उपलब्ध कराने पर खुशी का अनुभव हो रहा है और इस पहल के साथ, यह हमारा प्रयास है कि हम भारतीय सशस्त्र बलों के सेवारत और सेवानिवृत्त कार्मिकों के लिए एक बेहतर बैंकिंग अनुभव प्रदान करें। कर्मियों को मजबूर करता है। ‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी पैकेज‘ के तहत उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाएँ इसे बैंकिंग उद्योग में उपलब्ध सर्वोत्तम श्रेणी के वेतन और पेंशन पैकेजों में से एक बनाती हैं।‘‘

सहमति पत्र पर बैंक आॅफ बड़ौदा की ओर से कार्यकारी निदेशक श्री विक्रमादित्य सिंह खिची और भारतीय सेना की ओर से लेफ्टीनेंट जनरल रविन खोसला, एवीएसएम, एसएम, डीजी (एमपी एंड पीएस) ने हस्ताक्षर किए। इस दौरान लेफ्टीनेंट जनरल हर्षा गुप्ता, एवीएसएम, वायएसएम, वीएसएम भी उपस्थित रहे। भारतीय तटरक्षक बल की ओर से डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल डी एस सैनी, टीएम, प्रिंसीपल डायरेक्टर (एडमिनिस्ट्रेशन) ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। ‘बड़ौदा मिलिट्री सेलेरी पैकेज‘ भारतीय वायु सेना को प्रस्तुत किया गया था।

बैंक और भारतीय नौसेना के बीच समझौता ज्ञापन पर बैंक आॅफ बड़ौदा की ओर से जनरल मैनेजर (गवर्नमेंट रिलेशनशिप्स एंड पीएसयू) श्री अश्विनी कुमार और भारतीय नौसेना की ओर से कमोडोर नीरज मल्होत्रा (पी एंड ए) ने हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर बैंक आॅफ बड़ौदा के कार्यकारी निदेशक श्री विक्रमादित्य सिंह खिची और रियर एडमिरल गिरीश के गर्ग, एसीओपी (एसी) भी उपस्थिति रहे।

बैंक ऑफ बड़ौदा के बारे में
20 जुलाई, 1908 को स्थापित बैंक ऑफ बड़ौदा (‘‘बैंक‘‘) सरकारी स्वामित्व वाला बैंकिंग और वित्तीय सेवा संगठन है, जिसका मुख्यालय वड़ोदरा (जिसे पहले बड़ौदा के नाम से जाना जाता था), भारत में है।
बैंक ऑफ बड़ौदा भारत का तीसरा सबसे बड़ा बैंक है, जिसकी देशभर में एक मजबूत घरेलू उपस्थिति है। बैंक के वितरण नेटवर्क में 8,200 से अधिक शाखाएं, 10,000 से अधिक एटीएम और 1,200 से अधिक सेल्फ-सर्विस ई-लॉबी और 20,000 बिजनेस काॅरेस्पोन्डेंट शामिल हैं। 20 देशों में फैले 100 शाखाओं/सहायक कार्यालयों के नेटवर्क के साथ बैंक की एक महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति है। बैंक के पास पूरी तरह से स्वामित्व वाली सहायक कंपनियां हैं, जिनमें बाॅब फाइनेंशियल सॉल्यूशंस लिमिटेड (पूर्ववर्ती बाॅब कार्ड्स लिमिटेड), बाॅब कैपिटल मार्केट्स और बाॅब एसेट मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड शामिल हैं। बीमा क्षेत्र में भी बैंक ऑफ बड़ौदा का संयुक्त उद्यम- इंडिया फस्र्ट लाइफ इंश्योरेंस कंपनी है। नैनीताल बैंक में बैंक आॅफ बड़ौदा का 98.57 प्रतिशत हिस्सा है। बैंक ने तीन क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों अर्थात बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक, बड़ौदा राजस्थान ग्रामीण बैंक और बड़ौदा गुजरात ग्रामीण बैंक को भी प्रायोजित किया है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post