अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय द्वारा 2021 के स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में प्रवेश की घोषणा

बेंगलुरु : अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय, बैंगलोर द्वारा बेंगलुरु में अपने पूर्णकालिक स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में प्रवेश लेने के संबंध में घोषणा की गई है।
प्रस्तावित कार्यक्रम निम्नानुसार हैं 2-वर्षीय कार्यक्रम (पात्रता: किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री), एम. ए. एजुकेशन, एम. ए. डिवेलपमेंट, एम. ए. पब्लिक पॉलिसी एंड गवर्नेंस, एम. ए. अर्थशास्त्र (छात्रों को अर्थशास्त्र का पर्याप्त ज्ञान होना चाहिए),1-वर्षीय कार्यक्रम (पात्रता: कानून में स्नातक की डिग्री), लॉ एंड डिवेलपमेंट में एलएल.एम.

सिद्धांत, अभ्यास और अनुसंधान में मजबूत आधार। प्रक्षेत्र (डोमेन) में समझ और दृष्टिकोण बनाने के लिए महत्वपूर्ण पाठ्यक्रम। 100 से अधिक अंतःविषयक/थीम आधारित वैकल्पिक विकल्प। संप्रेषण, वित्त आदि कई क्षेत्रों में क्षमता निर्माण कार्यशालाएँ। कला, संगीत, सिनेमा, नृत्य, थिएटर आदि में मुक्त कोर्स। साप्ताहिक रूप से अतिथि व्याख्यान, राष्ट्रीय और अंतर-राष्ट्रीय सम्मेलन आदि सीखने के अद्वितीय अनुभव प्रदान करते हैं।
सभी सेमेस्टरों में विविध प्रकार के फील्ड संबंधी अनुभव प्रदान कराने वाले साप्ताहिक व्यवहारिक कार्यों, इमर्शन यात्राओं, संगठनात्मक इंटर्नशिप, संकाय के मार्गदर्शन में अनुसंधान परियोजनाओं और स्वतंत्र फील्ड परियोजनाओं का प्रावधान है।
शिक्षण, अनुसंधान और फील्ड-अभ्यास में व्यापक अनुभव रखने वाली 140 संकाय सदस्यों की टीम। उच्च संकाय-छात्र अनुपात, बैठकों के लिए समर्पित संकाय घंटे, अंतरंग समर्थन और सलाह।

सामाजिक क्षेत्र में ऐसे पेशेवरों की आवश्यकता बढ़ती जा रही है जिनमें प्रेरणाशक्ति और क्षमता हो। हमारे कैंपस प्लेसमेंट में हर साल 90 से अधिक संगठन भाग लेते हैं और हमारे पास प्लेसमेंट के उत्कृष्ट रिकॉर्ड हैं।

अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय आर्थिक रूप से वंचित छात्रों का समर्थन करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। विश्वविद्यालय द्वारा ट्यूशन और आवास दोनों पर छात्रों की पारिवारिक आय के आधार पर (100%, 75%, 50%, और 25%) व्यापक रूप से आवश्यकता-आधारित छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। जिन उम्मीदवारों को स्नातक स्तर की शिक्षा प्राप्त करने के बाद न्यूनतम 3 साल का अनुभव हो, उन्हें विश्वविद्यालय द्वारा सभी 2-वर्षीय पी.जी. कार्यक्रमों के लिए ट्यूशन शुल्क पर 50% की छूट प्रदान की जाती है।

अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय के अनुराग गुप्ता, निदेशक-छात्र  लाइफ साइकल फ़ंक्शन, कहना है, “भारत जैसे विकासशील देश में इस बात की अत्यधिक आवश्यकता है कि स्नातकोत्तर स्तर के छात्रों को व्यवस्थित और औपचारिक रूप से प्रशिक्षित और शिक्षित किया जाए ताकि वे सामाजिक क्षेत्र में काम करने के लिए तैयार हो सकें। एजुकेशन, डिवेलपमेंट, अर्थशास्त्र, पब्लिक पॉलिसी एंड लॉ जैसे कार्यक्रमों के माध्यम से अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय देश की इस आवश्यकता में योगदान देता रहा है। हमारा प्रयास यह है कि सामाजिक क्षेत्र के लिए प्रतिबद्ध और प्रेरित पेशेवरों को तैयार किया जाए ताकि वे भारतीय समाज में एक बड़ा बदलाव लाने की दिशा में आगे बढ़ें”।
 
प्रवेश की प्रक्रिया और तिथियाँ: छात्रगण विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। शॉर्टलिस्ट किए गए छात्रों के लिए आयोजित लिखित परीक्षा और व्यक्तिगत साक्षात्कार के आधार पर आवेदकों का चयन किया जाएगा। जिन उम्मीदवारों को स्नातक स्तर की शिक्षा प्राप्त करने के बाद न्यूनतम 2 वर्ष का अनुभव है, उन्हें एजुकेशन, डिवेलपमेंट तथा पब्लिक पॉलिसी एंड गवर्नेंस में एम.ए. के कार्यक्रमों के लिए प्रवेश के शुरुआती चक्र में भाग लेने का मौका दिया जाएगा।

महत्वपूर्ण तिथियाँ  
2021 में प्रवेश
कार्यरत पेशेवरों के लिए शुरुआती चक्र
नियमित चक्र

आवेदन करने की अंतिम तिथि
25 दिसंबर 2020
26 फरवरी 2021

नेशनल एंट्रेंस टेस्ट
10 जनवरी 2021 
21 मार्च 2021

साक्षात्कार 
फरवरी 2021 के मध्य में 
अप्रैल 2021 

प्रवेश का प्रस्ताव 
मार्च 2021
जून 2021

कक्षाओं का प्रारंभ
अगस्त 2021 के मध्य में
अगस्त 2021 के मध्य में

* तिथियाँ अस्थायी हैं

नया परिसर (कैंपस)
ये कक्षाएँ बैंगलोर के बाहरी इलाके में सरजापुर-अत्तिबेले मार्ग में विश्वविद्यालय के स्थायी आवासीय परिसर में आयोजित की जाएँगी। निर्माण के पहले चरण के बाद 80 एकड़ में फैले इस कैंपस में 2.7 मिलियन वर्गफुट स्थान उपलब्ध होगा, जिसमें 3800 छात्रों और 700 संकाय-सदस्यों के साथ-साथ प्रशासन के कर्मचारियों को समायोजित किया जा सकेगा

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post