शातिर नकबजन गिरोह के चार सदस्यों को किया गिरफ्तार

 


      भोपाल । राजधानी में 18 नवंबर को फरियादी अजय कुमार श्रीवास्तव प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खुशीपुरा, थाना स्टेशन बजरिया ने रिपोर्ट किया कि दीपावली के शासकीय अवकाश के कारण 11नवंबर को विद्यालय को बंद कर दिया था, 18 नवंबर को विद्यालय के बाहरी गेट पर लगा ताला खोलकर अंदर जाकर देखने पर अंदर प्राचार्य के कमरे, लायब्रेरी और अन्य कमरों में लगे ताले टूटे हुए थे, कोई अज्ञात चोर विद्यालय घुसकर कम्प्यूटर सिस्टम (मॉनीटर, सीपीयू, प्रिंटर, स्पीकर), एलईडी टी. व्ही., कम्प्यूटर मॉनीटर, दो गैस सिलेंडर, तीन सीसीटीव्ही कैमरे तथा 18 सीलिंग फेन पुराने कुल सामान कीमती करीब 80,000 रूपये का चोरी कर ले गया है। रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्व धारा 457/380 भादवि पंजीबद्व कर विवेचना प्रारंभ की गई। थाना स्टेशन बजरिया की पुलिस टीम गठित की गई। पुलिस टीम द्वारा अज्ञात चोरो की पतासाजी हेतु मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर क्षेत्र के पुराने नकबजनों की गतिविधियों पर गोपनीय रूप से निगाह रखी गई तथा लगातार अज्ञात चोरों की पतासाजी प्रारंभ की गई।    


 


       पतासाजी के दौरान पुलिस टीम को 23 नवंबर को मुखबिर के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि एक व्यक्ति पावर हाउस रोड चांदबड़ में कुछ पुराने इस्तेमाली पंखे बेचने का प्रयास कर रहा है, सूचना के आधार पर पुलिस टीम द्वारा दबिश देकर आरोपी अभिषेक वर्मा उर्फ बोना को चोरी के पंखों सहित पकड़ा गया। आरोपी अभिषेक वर्मा द्वारा पूछताछ में अपने साथियों टीनू उर्फ हिमांशु प्रजापति, दीपेश कोरी तथा सेफू उर्फ इरशाद के साथ मिलकर दीपावली की रात्रि में स्कूल की दीवार को फांदकर अंदर घुसकर कमरों में लगे ताले तोड़कर कम्प्यूटर, प्रिंटर, एलईडी टी.व्ही. व मॉनीटर, गैस सिलेंडर, सीसीटीव्ही कैमरे तथा पंखे चोरी करना स्वीकार किया गया। आरोपी के बताये अनुसार अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे चोरी गये सामान को बरामद किया गया। 


 


आरोपियों द्वारा कुछ सामान आरोपी रेहान कुरैशी नि. काजी केम्प को बेचना बताये जाने पर प्रकरण में धारा 411 भादवि प्रभावशील कर रेहान को भी गिर. कर बेचा गया सामान बरामद किया गया है। प्रकरण में एक आरोपी सेफू उर्फ इरशाद वर्तमान में फरार है, जिसकी गिरफ्तारी के लिये पुलिस टीम को लगाया गया है।


 


 आरोपीगणों की निशांदेही पर तथा कब्जे से जप्त की गई संपत्तिकम्प्यूटर मॉनीटर, केबल, सीपीयू, पिं्रटर, स्पीकर, एक कम्प्यूटर मॉनीटर, एक एलईडी टी.व्ही., एक गैस सिलेंडर तथा 15 नग सीलिंग फेन कीमती करीब 80,000 रूपये।


 


मुख्यभूमिका उप निरीक्षक अंकित बघेल, प्र. आर. धर्मेन्द्र सिंह, आर. मनोज शिवड़े, आर. सुनिल माधव तथा आर. उमाशंकर सिंह


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post