प्लाट बेचने के नाम पर लाखों की ठगी, प्रकरण दर्ज

भोपाल। शहर के हरेडी ग्राम क्षेत्र में तीन साल पहले प्लाट की फर्जी रजिस्ट्री कर लाखों रुपए की ठगी की गई फरियादी की शिकायत पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया। पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुसार आयोध्यनगर थाने में प्लाट के नाम से 13 लाख रुपए की ठगी किए जाने की शिकायत फरियादी मिलिट्री रिटायर तोशंत दिवेदी की गई है । द्विवेदी ने बताया कि वर्ष 2017 में अयोध्या नगर निवासी इंद्रपाल से तीन हजार वर्ग फीट का प्लाट हरेडि गांव में खरीदा गया था जिसकी रजिस्ट्री 13 लाख 60 हजार रुपए के भुगतान उपरान्त कराई गई थी। जिस समय प्लाट खरीदा गया था उस समय प्लाट दूसरा दिखाया गया था। बाद में फरियादी अपनी नोकरी पर वापस चला गया उसके कुछ माह बाद प्लाट देने के लिए इंद्रपाल से कहा गया जो कि वह बरगलाता रहा । उसके बाद दूसरी बार फिर अवकाश पर आया तब फिर प्लाट की मांग की गई जिस पर इंद्रपाल ने नाले के पास वाला प्लाट दिखाकर देने के लिए कहा। जिस पर फरियादी ने मना कर दिया। फरियादी द्वेदी जो खरीदते समय दिखाया था वह नहीं है। इस बात को लेकर काफी विवाद हो गया । खड़ी खींचतान के बाद दोनों पार्टियों में समझौता हुआ कि इंद्रपाल के द्वारा फरियादी द्वेदी को मय ब्याज के 19 लाख रुपए वापस करने की बात हुई ऑर जो 17 लाख रुपए लौटाने के लिए अगस्त 2020 में चेक दिया गया। जब चेक को फरियादी ने अपने बैंक खाते में जमा किया गया जो बाद में बाउंस हो गया। उसके बाद इस पूरे मामले की सभी दस्तावेजों के साथ अयोध्या नगर थाने में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया ।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post