कंप्यूटर बाबा का आश्रम ढहाया, विरोध करने पर बाबा सहित सात को भेजा जेल

इंदौर। जिले की हातोद तहसील के ग्राम जमुदी हपसी में प्रशासन ने आज तडके सुबह एक बड़ी कार्यवाही करते हुए शासकीय भूमि पर कंप्यूटर बाबा द्वारा किया गया अतिक्रमण को उखाड फेंका है। साथ ही विरोध करने पर शासकीय कार्य में बाधा पहुंचने के तहत गिरफ्तार किय गया गई। प्राप्त जानकारी अनुसार काफी जद्दोजहद के बाद आखिर शासकीय भूमि को भू माफिया कम्प्यूटर बाबा के अतिक्रमण से आजाद करवा दिया। जिसके लिए प्रशासन के द्वारा पूर्व में भी कम्प्यूटर बाबा को नीतिश दिया का चुका था। इंदौर जिले की हातोद तहसील के ग्राम जमूडी हपसी अंतर्गत नामदेव दास त्यागी कंप्यूटर बाबा द्वारा शासकीय भूमि खसरा नंबर 610/1 और 610/2में दो एकड़ भूमि पर अनअधिकृत रूप से क़ब्ज़ा प्रमाणित पाया गया था। मौक़े पर मौजूद SDM हातोद शाश्वत शर्मा से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस संबंध में राजस्व प्रशासन द्वारा इनके विरुद्ध दो हज़ार रुपये का अर्थदंड आरोपित करते हुए शासकीय भूमि के अनाधिकृत क़ब्ज़े से बेदख़ल किए जाने का आदेश पारीत किया गया था। अतिक्रमण नहीं हटाए जाने की स्थिति में प्रशासन द्वारा आज यह कार्यवाही की गई है। अतिक्रमण हटाते वक्त बाबा के आश्रम से 315 बोर बंदूक भी बरामद की गई है। अब इस बंदूक के लाइसेंस की जांच की जा रही है। 


  कलेक्टर मनीष सिंह ने इस कार्य का जिम्मा एडीएम अजय देव शर्मा को दिया, जिसमें शर्मा अन्य एसडीएम तथा पुलिस अधिकारियों की टीम लेकर अतिक्रमण तोड़ने की कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं। कार्यवाई का विरोध करने पर पुलिस ने कंप्यूटर बाबा सात लोगों को हिरासत में लेकर सेंट्रल जेल भेज दिया गया है। 


कम्यूटर बाबा सहित 7 लोगो को सेंट्रल जेल भेजा


कांग्रेस नेता भी आए बचाव में 


इंदौर स्थित गोमिटगिरी के कम्प्यूटर बाबा का आश्रम 46 एकड़ जमीन पर बना था जिसे हटाने के लिए जिला प्रशासन ने आश्रम दो महीने पहले नोटिस दिया गया था 


आज सुबह 5 बजे से अतिक्रमण हटाना शुरू किया गया। कम्प्यूटर बाबा सहित 7 लोगो को गिरफ्तार कर सेंट्रल जेल भेजा गया। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने विरोध जताते हुए कहा कि यह सब राजनीति और बदले की भावना से कार्यवाही की जा रही है।कांग्रेस विधायक विशाल पटेल ने भी इस कार्यवाही का विरोध किया है।



0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post