पीएनबी ने "डिजिटल अपनाएं”अभियान के तहत 40 लाख रूपये पीएम केयर्स फण्ड में प्रदान किए

नई दिल्ली । देश के सार्वजनिक क्षेत्र के अग्रणी बैंक, पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) ने वित्तीय सेवाएं विभाग, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार के दिशानिर्देशानुसार “डिजिटल अपनाएं” को प्रोत्साहित करने के लिए 74वें स्वतंत्रता दिवस पर नई दिल्ली में अपने कॉर्पोरेट कार्यालय में "डिजिटल अपनाएं" नाम से एक अभिनव डिजिटल अभियान शुरू किया था, जो भारत सरकार के “डिजिटल एडॉप्शन” अभियान के तहत 1 करोड़ ग्राहकों को डिजिटल प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने की दिशा में एक प्रयास है। भारत सरकार की इस पहल का उद्देश्य डिजिटलीकरण के नए युग में सभी के लिए सुगम और सुरक्षित डिजिटल बैंकिंग सेवाएं सुनिश्चित करना तथा बैंकिंग मानदण्डों में क्रांतिकारी बदलाव लाना है।


यह अभियान 15 अगस्त 2020 से 31 मार्च 2021 तक आयोजित किया जा रहा है, जिसमें डिजिटल प्लेटफॉर्म पर जुड़ने वाले ग्राहकों की ओर से पीएनबी पीएम केअर्स फंड में प्रति ग्राहक रु.5/- प्रदान करेगा।


अपनी प्रतिबद्धता को व्यक्त करते हुए पीएनबी ने 1 अक्टूबर 2020 को पीएम केयर्स फंड में चालीस लाख चौदह हजार चालीस रूपये प्रदान किए। पीएनबी के प्रबंध निदेशक व सीईओ श्री सीएच.एस.एस.मल्लिकार्जुन राव ने आज श्री देबाशीष पांडा, सचिव, वित्तीय सेवाएं विभाग, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार और श्री पंकज जैन, अतिरिक्त सचिव, वित्तीय सेवाएं विभाग को इस राशि का चेक प्रदान किया। अब तक 8 लाख से अधिक ग्राहकों ने पीएनबी के 'डिजिटल अपनाएं' अभियान के 6 मापदंडों के तहत योगदान दिया है।पीएनबी का यह अभियान ग्राहकों को डिजिटल चैनल्स का उपयोग करने और कोविड-19 के लिए पीएम केयर्स फंड में दान करने हेतु नेक कार्य का हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित करता है।देबाशीष पांडा, सचिव, वित्तीय सेवाएं विभाग, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार ने कहा कि “पीएनबी की इस पहल की वित्त मंत्रालय सराहना करता है, जिसमें देश भर में ग्राहकों को बैंकिंग सेवाओं के लिए डिजिटल माध्यमों का उपयोग करने के लिए जागरुक व प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस प्रयास से भारत सरकार के डिजिटल भारत पहल को बल मिला है। देश में इस महामारी के दौरान कठिन समय में पीएम केअर्स फंड में योगदान हेतु पीएनबी द्वारा किए जा रहे प्रयासों की हम सराहना करते हैं।


इस अवसर पर, पंजाब नैशनल बैंक के एमडी और सीईओ सीएच. एस.एस. मल्लिकार्जुन राव ने कहा कि “डिजिटल अपनाएं ’अभियान का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि सरकारी योजनाओं और लाभों को इलेक्ट्रॉनिक रूप से नागरिकों को उपलब्ध कराया जाए और भारत को डिजिटल रूप से सशक्त बनाया जाए। हमने पूरे देश में अपने डिजिटल ग्राहक आधार में तेजी से वृद्धि देखी है और इस अभियान के तहत 8 लाख से अधिक नए ग्राहकों को सफलतापूर्वक जोड़ा है। ग्राहकों की बढ़ती उम्मीदों के साथ, पीएनबी अपने डिजिटल चैनलों को बढ़ाने और इन्हें सहज और उपयोगकर्ता के अनुकूल बनाने की दिशा में लगातार कदम उठा रहा है।


उन्होंने आगे कहा कि डिजिटल आर्थिक प्रगति के लिए देश की विकास यात्रा में एक अभिन्न और अपरिहार्य भूमिका निभाने के लिए पीएनबी पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और इस दिशा में सदैव प्रयासरत रहेगा। हमारे मूल्यवान ग्राहकों के सहयोग से पीएम केअर्स फंड में योगदान करना हमारे लिए एक सम्मान की बात है और भारत को डिजिटल रूप से सशक्त समाज और बेहतर अर्थव्यवस्था में बदलने की दिशा में यह हमारा एक सार्थक कदम है।


पंजाब नैशनल बैंक प्रत्येक ग्राहक के डिजिटल प्लेटफॉर्म से जुड़ने और 6 मापदंडों पर डिजिटल लेन-देन करने पर पीएम केअर्स फंड में ₹5.00 का योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध हैः


1. पीओएस पर उनके रुपे डेबिट कार्ड को एक्टिव करने वाला पहला वित्तीय लेनदेन


2. ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर पहला वित्तीय लेनदेन


3. फंड ट्रांसफर के जरिए एईपीएस खाते को एक्टिव करना


4. भीम आधार व्यापारियों के भुगतान के माध्यम से एईपीएस खाते को एक्टिव करना


5. यूपीआई सेवा को एक्टिव करना


6. यूपीआई सुविधा के लिए डाउनलोड तथा पंजीकरण 


यह अभियान मिशन कार्यालय, वित्तीय सेवाएं विभाग, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा की गई पहल ‘डिजिटल एडॉप्शन’ के अनुरूप है।वित्त मंत्रालय के अनुसार अभियान के शुभारंभ के केवल एक महीने में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSBs) ने डिजिटल भुगतान मोड पर लगभग एक करोड़ ग्राहकों को जोड़ा है।


पीएनबी का “डिजिटल अपनाएं” अभियान सरकार के डिजिटल इंडिया पहल के तत्वावधान में ग्राहकों को डिजिटल बैंकिंग चैनलों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से 15 अगस्त को लॉन्च किया गया था। अभियान के तहत बैंकों को प्रत्येक शाखा द्वारा व्यापारियों और वित्तीय समावेशन खाता धारकों सहित न्यूनतम 100 नए ग्राहकों को डिजिटल भुगतान मोड पर जोड़ने के लिए निर्देश दिए गए थे ।


पीएनबी की 10917 शाखाओं में से लगभग 5000 शाखाओं ने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर 100 से अधिक ग्राहकों को पंजीकृत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और इन शाखाओं में मेट्रो, शहरी, अर्ध-शहरी और ग्रामीण शाखाएं शामिल हैं।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post