धोखाधड़ी के मामले में प्रकरण दर्ज, सास को मारी छुरी

भोपाल । शहर के निशातपुरा थानांतर्गत दो दोस्तों ने मिलकर भारी वाहन बेचकर लाखों रुपए की ठगी की गई जिसकी शिकायतों पर वहां जब्त कर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया। 


पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुसार वर्ष 2019 में दो दोस्त रंजीत व विकास ने मिलकर डी जे वाहन टाटा 407 को साढ़े पांच लाख रुपए में दीपक नामदेव को बेच दिया था। नामदेव ने उक्त वहां को अपने नाम भी स्थानांतरण नहीं करवाया था। कुछ दिनों बाद उसी वहां को विकास पतरोल ने 25000 रुपए माह से किराए पर के लिया । जिसका 4 माह का किराया भी नहीं दिया । साथ ही दोनों दोस्तों ने मिलकर उक्त वहां से डी जे भी निकालकर बेच दिया और बाद में टाटा 407 वहां को डेढ़ लाख रुपए में बैरसिया के दिनेश साहू को बेच दिया। जिसकी जानकारी दीपक नामदेव को मिली तो विकास व रंजीत ने वहां देने से मना कर दिया। साथ है जब पेज वापस मांगे गए तो वह भी वापस करने मना कर दिया। जब काफी समय हो गया उनके द्वारा वहां व पेज नहीं दिए गए तब जाकर फरियादी दीपक नामदेव ने निशातपुरा थाने में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया। वाहन को बैरसिया में जब्त कर वहीं थाने में खड़ा कर दिया गया है। आरोपियों को गिरफ्तार कर जांच कि जा रही है।


सास को मारी छुरी


निशातपुरा थाने के बिलाल कोलोनी में रहने वाली महिला को उसके दामाद ने छुरी मारकर घायल कर दिया थाने में प्रकरण दर्ज कर आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुसार आरोपी इमरान जो कि गोतम नगर में रहता है उसकी ससुराल निशातपुरा थानांतर्गत विकास कालोनी में है। उसकी पत्नी नेहा का इमरान से किसी बात को लेकर विवाद हो गया था जिसके चलते वह अपने माता पिता के यहां पर रह रही थी इमरान पहले भी नेहा को अपने घर वापस लेने के लिए आ चुका था लेकिन पत्नी ने जाने से मना कर दिया था। कल रात्रि में भी इमरान अपनी ससुराल नेहा को लेने गया था, उस समय वह काफी नसे में था। जिसके चलते उसका सास रेहाना बेगम से विवाद हो गया। विवाद इतना बाद गया की आरोपी ने गुस्से में आकर सास रेहाना बेगम को साथ लाई छुरी मार दी। जिससे वह घायल हो गई जीने देर रात अस्पताल में उपचार के लिए भेजा गया। इस घटन की सूचना रेहाना के परिजनों के देर थाने में दी गई जिसपर आरोपी इमरान पर गंभीर अपराध की धारा 307 का प्रकरण दर्ज किया गया है।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post