अनुविभाग स्तर से शुरू करें विभागीय कार्यों की समीक्षा : कियावत

भोपाल :  संभागायुक्त कवींद्र कियावत ने राजगढ़ प्रवास के दौरान नरसिंहगढ़ पहुंचकर विभागीय योजनाओं की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि जिस प्रकार कलेक्टर द्वारा जिला स्तर पर योजनाओं की समीक्षा और निगरानी की जाती है उसी प्रकार की समीक्षा सब-डिवीजन स्तर पर एसडीएम और सीईओ जनपद करें, जिससे मैदानी अमले पर पकड़ बने और वह पूरी क्षमता के साथ जनहित के कार्य कर सकें। 
           संभाग आयुक्त ने निर्देश दिए कि आम आदमी को शासन की योजनाओं का लाभ मिले। उनकी समस्याओं का शीघ्र निराकरण हो इसके लिए सभी अपनी जिम्मेदारी समझे और कार्य को प्राथमिकता दें। राजस्व अधिकारी आधा समय विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा और उन्हें अंजाम देने में लगाएं।  श्री कियावत ने स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा पर विशेष जोर देते हुए समस्त एसडीएम को निर्देशित किया कि एएनएम, आशा-आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के साथ संयुक्त सर्वे कराकर टीकाकरण, लाडली लक्ष्मी, प्रधानमंत्री मातृ वंदना आदि योजनाओं का लाभ दिलाएं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करें कि उप स्वास्थ्य केंद्रों में एएनएम रहे और वहीं पर डिलीवरी हो, इससे जिला चिकित्सालय, खण्ड चिकित्सालय पर लोड कम होगा। संस्थागत प्रसव की संख्या बढ़ेगी । उन्होंने कहा कि विभिन्न अभियान 30 सितंबर तक पूरा कर लिया जाए। उप स्वास्थ्य केंद्रों और आंगनवाड़ी केंद्रों की रंगाई पुताई के भी निर्देश दिए।
समीक्षा के दौरान श्री कियावत ने ग्राम पंचायतों में बी-1 वाचन के साथ फौती नामांतरण और संपदा नामंत्तरण के प्रकरण दर्ज कर निराकृत करने के निर्देश दिये। उन्होंने बंटवारे के प्रकरणों  का निराकरण कर साथ ही नक्शा तरमीम करने, गौशालाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए नस्ल सुधार, चरागाह निर्माण आदि से जोड़ा जाए।  किसान क्रेडिट कार्ड पशुपालकों को तथा मछुआ क्रेडिट कार्ड बनवाए जाएं। डेरी के माध्यम से दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा दिया जाए। नगर पालिकाओं में स्वच्छता व राजस्व वसूली पर  विशेष ध्यान दिया जाए तथा ग्रामों में कोटवारों को सशक्त बनाये जाने के निर्देश दिये। श्री कियावत ने नामांतरण, बटवारे तथा राजस्व प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि ग्राम स्तर पर कैंप लगाकर आवेदनों का निराकरण करें। उन्होंने तहसील जनपद कार्यालय व्यवस्थित करने के निर्देश दिए।  कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने बैठक में बताया कि दिए गए निर्देशों के पालन में राजस्व प्रकरणों का निराकरण 85 प्रतिशत तक लाया गया है। ग्राम पंचायतों की रंगाई पुताई और लाइब्रेरी की स्थापना की गई है। पात्रता पर्ची में सभी ने अच्छा काम कर राजगढ़ को ऊपर पायदान पर स्थापित किया है।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post