राजधर्म का पाठ पढ़ाने वाले नेता थे स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी- जीतू पटवारी 

 


पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि पर किया उन्हें याद


भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रमुख और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि  अटल जी एक ऐसा व्यक्तित्व थे जिन्होंने अपने दल के नेताओं को राज धर्म का पालन करने की नसीहत दी थी ।साथ ही राजनीति के उच्च मापदंडों की राजनीति भावी पीढ़ी को सिखाई थी। जीतू पटवारी ने कहा कि आज के राजनीतिक दौर में अटल जी को उनकी शुचिता और उच्च मापदंडों वाली राजनीति के लिए ही नहीं बल्कि एक ऐसे राजनीतिज्ञ के रूप में भी  पहचाना जाता है जिन्होंने सत्ता के लिए कभी पीछे का दरवाजा नहीं  चुना और विपक्ष को कभी अपना दुश्मन नहीं बल्कि सचेतक माना।  वह सत्ता में रहते हुए जितने प्रासंगिक थे उससे अधिक वह विपक्ष के नेता के तौर पर प्रसिद्ध रहे उनकी विद्वता को मानते हुए ही चाहे श्रीमती इंदिरा गांधी की सरकार हो या श्री राजीव गांधी की सरकार सबने उन्हें भारत रत्न ही माना। 
 
जीतू पटवारी ने कहा कि देश और प्रदेश में जिस तरह का आज राजनीतिक माहौल है। सत्ता के लिए वह राजनीतिक दल हर  असंवैधानिक तरीके अपनाने को तैयार है जिसे अटल जी चिमटे से भी छूना पसन्द नहीं करते थे। अटल जी की जीवन शैली और राजनीति करने के तरीके ने ही उन्हें भारत का सर्वमान्य नेता बनाया। हमें उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर उनके जीवन से सीख लेकर देश में शुचिता की राजनीति के साथ लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए।





0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post