पहला ओपन एयर थियेटर अनुपयोगी सामग्री से तैयार कर रहा वाल्मी

2500 से अधिक कांच एवं पानी की बॉटल का किया उपयोग
भोपाल। मप्र जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी) द्वारा संस्थान में  250 सीटिंग कैपेसिटी का ओपन एयर थियेटर (खुल रंगमंच ) गैर पारंपरिक वेस्ट (अनुपयोगी सामग्री) से तैयार किया जा रहा है,इस तरह का यह पहला प्रयास है।
कबाड़ से अनुपयोगी सामग्री को खरीदकर दिया नया रुप
ओपन एयर थियेटर के निर्माण के लिए कबाड़ से अनुपयोगी सामग्री को खरीदकर नया रूप दिया गया है, जिसमें 2000 कांच की बॉटल एवं 500 पानी की बॉटल सहित मलबा,मेटल का उपयोग किया गया है।रेत की जगह क्रेसर डस्ट का किया उपयोग किया गया है,साथ ही फ्लोरिंग में मार्बल के टूटे हुए दाने और बार्डर पर डिजाइन के लिए धौलपुर पत्थर का उपयोग किया जा रहा है।
100 कलाकार दे सकेंगे प्रस्तुति
 मंच को इस तरह तैयार किया जा रहा है कि जिसमें 75 से 100 कलाकार एक साथ प्रस्तुति दे सकें।
सितम्बर अंत तक होगा शुरू
 यह ओपन एयर थियेटर सितम्बर अंत तक शुरू होगा, फिर यह जनसामान्य के लिए उपलब्ध होगा। संचालक वाल्मी उर्मिला शुक्ला ने बताया कि पर्यावरण संरक्षण एवं अनुपयोगी वस्तुओं के प्रबंधन करने के उद्देश्य से इस तरह की पहल की है।



0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post