न्यायालय का समय बर्बाद कर रही है कांग्रेस: मिश्रा


भोपाल। सर्वोच्च न्यायालय के  द्वारा विधानसभा सचिव को दिए गए नोटिस में बचाव करते हुए उन ग्रह मंत्री ने कांग्रेस के द्वारा समय खराब किया जाना कहा है। पूर्व विधायकों के मंत्री बनाए जाने विधानसभा का सदस्य ना होना भी है। प्रदेश की राजनीति में सर्वोच्च न्यायालय के नोटिस को लेकर हलचल मच गई है पक्ष विपक्ष  में आरोपों का दौर शुरू हो गया है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सुप्रीम कोर्ट के विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस कहा कि विधायको के ज्ञान पर प्रश्न नही है, न ही में कोर्ट की अवमानना कर रहा हूं।मैं स्पष्ट कर दूं कि, योग्यता का प्रश्न तब होता है, जब सम्मानित सदस्य, सदस्य होता है। मंत्री बनने की बात पर कहा कि, वो सदस्य रहते बनते मंत्री नही बने, वो इस्तीफा देने के बाद बने है, सच तो यह है कि न्यायालय का समय जाया किया जा रहा है । ज्योतिरादित्य सिंधिया के विरोध पर डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जैसे तैसे जीत कर 2 से 4 सीट बीजेपी से ज्यादा ले आए,। कांग्रेस के नेता तो भोपाल में बैठे थे।खड़ी फसल कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने दी थी, जिसे खत्म कर दी इसके लिए दिग्विजय सिंह और कमलनाथ का विरोध होना था । दंडोतिया ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया का विरोध जनता को गुमराह करने कांग्रेस की साजिश है ।  दिग्विजय सिंह का सीएम शिवराज को बासमती के जीआई टैग को लेकर धरने पर बैठने की बात पर कहा कि कांग्रेस की विचित्र स्थिति है एक पूर्व मुख्यमंत्री कहते है कि बासमती का दर्जा नही मिले, एक पूर्व मुख्यमंत्री कहते है कि सीएम शिवराज हमारे साथ  धरने पर बैठे।दो मुँह की राजनीति करते है ये लोग। किसान और जनता को बेवकूफ समझते है, इसलिए कांग्रेस अब सम्माप्ति की ओर है। उपचुनाव का बजट 3 हजार करोड़ को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह सबको पता है कि उनके क्षेत्र की उपेक्षा की गई है, किसी प्रकार से विकास हुआ नही, इसलिए यह  प्राबधान किया गया है।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post