BS-VI मॉडल्स के साथ जावा की राइडिंग हो गई ओर भी शानदार

पुणे | आज क्लासिक लेजेंड्स प्रा. लि. ने देश भर में अपने डीलरशिप नेटवर्क के माध्यम से जावा और जावा फोर्टी-टू के BS-VI मॉडल की डिलीवरी शुरू कर दी है। दोनों मॉडल अब जावा के डीलरशिप पर डिस्प्ले, टेस्ट राइड और बुकिंग के लिए उपलब्ध हैं।जावा और जावा फोर्टी-टू, दोनों में 293cc का लिक्विड कूल्ड, सिंगल सिलेंडर, DOHC इंजन लगाया गया है। भारत में पहली बार क्रॉस पोर्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल इन दोनों बाइक्स में किया गया है, जो चार्ज तथा एग्जॉस्ट गैसों के फ्लो को बेहतर बनाकर इंजन की वॉल्यूमेट्रिक एफिशिएंसी को बढ़ाता है, साथ ही इससे पावर और टॉर्क आउटपुट में भी सुधार होता है।यह दुनिया का पहला ऐसा सिंगल सिलेंडर इंजन है जिसमें क्रॉस पोर्ट कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल किया गया है, जो बाइक को BS-4 कॉन्फ़िगरेशन की तरह ही पावर और टॉर्क आउटपुट देता है ताकि ग्राहकों को पहले की तरह ही बेहतरीन राइडिंग का अनुभव प्रदान किया जा सके। यह तकनीक मोटरसाइकिलों को ट्विन एग्ज़ॉस्ट को बनाए रखने में मदद करती है जो इन बाइक्स की खास पहचान है। इन बाइक्स में पावर और टॉर्क आउटपुट बिल्कुल पहले की तरह ही है, साथ ही ये BS-VI के कठोर उत्सर्जन मानकों के अनुरूप हैं।


क्रॉस-पोर्ट कॉन्फ़िगरेशन वाले दुनिया के पहले सिंगल सिलेंडर इंजन के साथ-साथ जावा की बिल्कुल नई लैम्ब्डा सेंसर, बाइक्स के इंटरनल तथा एक्सटर्नल वैरियेबल्स को और अधिक कुशलता से मॉनिटर करती है ताकि किसी भी तरह की सड़क पर एक जैसा परफॉर्मेंस बरकरार रहे और स्वच्छ उत्सर्जन को सुनिश्चित किया जा सके। फ्यूलिंग की बेहतर तकनीक के जरिए बेहद हल्के इनपुट्स पर एकदम सही तरीके से रिस्पॉन्स के लिए, थ्रोटल रिस्पॉन्स को पहले से अधिक क्रिस्प बनाया गया है।लम्बे सफर को ज्यादा आरामदेह बनाने के लिए, सीट पैन में कुछ बदलाव के साथ सीट को एक नया रूप दिया गया है और पहले से बेहतर कुशनिंग की गई है। कॉस्मेटिक डिपार्टमेंट की बात की जाए, तो इसमें लगाए गए क्रोम प्लेटिंग की पहले से अधिक कठोर तरीके से टेस्टिंग की गई है जिसके मानदंड इंडस्ट्री के मानकों से ढाई गुना अधिक सख्त हैं। जावा के इन दोनों मॉडल्स में एक बार फिर से इस श्रेणी के सबसे बेहतर ब्रेकिंग सिस्टम का इस्तेमाल हुआ है जो कॉन्टिनेंटल के ABS (सिंगल एवं डुएल चैनल) से सुसज्जित हैं, साथ ही दोनों मॉडल्स ब्रेक लगाने के बाद सबसे कम दूरी तय करने तथा सबसे बेहतर कंट्रोल के लिहाज से अपने प्रतिद्वंद्वियों से कहीं आगे हैं।


इन सब बातों के अलावा कई और बदलाव किए गए हैं, जिनमें बाइक के हॉर्न की आवाज़ से लेकर पहले से ज्यादा स्लीक गियरशिफ्ट शामिल हैं।


दोनों मोटरसाइकिल फाइनैंसिंग के कई सरल विकल्पों के साथ उपलब्ध हैं, ताकि बाइक खरीदते समय अग्रिम खर्च को कम किया जा सके तथा ग्राहकों को दो या तीन साल की अवधि में EMIs के जरिए भुगतान की सुविधा मिल सके।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post