श्रीकांत माधव वैद्य ने इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष का पदभार संभाला

मुंबई, 1 जुलाई 2020। श्री श्रीकांत माधव वैद्य ने आज यहां इंडियन ऑयल कॉर्पाेरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला। वे समवर्ती रूप से, चैन्नई पेट्रोलियम कॉर्पाेरेशन लिमिटेड के भी अध्यक्ष होंगे। यह इकाई इंडियनऑयल और इंडियन ऑयलटैंकिंग लिमिटेड की एक रिफाइनिंग सब्सिडियरी कंपनी है। साथ ही यह इकाई हिंदुस्तान उर्वरक और रसायन लिमिटेड के बोर्ड में होने के अलावा टर्मिनलिंग सेवाएं प्रदान करने वाला एक अन्य संयुक्त उद्यम है जोकि तीन विश्व-स्तरीय उर्वरक संयंत्रों की स्थापना कर रहा है। श्री वैद्य जोकि रत्नागिरी रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड के प्रबंधन बोर्ड में हैं, वे इसके अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालेंगे और पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड के बोर्ड में निदेशक भी होंगे। अपनी पदोन्नति से पहले, श्री वैद्य अक्टूबर 2019 से इंडियनऑयल बोर्ड में निदेशक (रिफाइनरीज) थे। वह श्री संजीव सिंह के उत्तराधिकारी बन गए हैं, जो कल निगम की सेवाओं से सेवानिवृत्त हुए हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, राउरकेला, से केमिकल इंजीनियरिंग की उपाधि प्राप्त श्री वैद्य को शोधन और पेट्रोकेमिकल संचालन में व्यापक अनुभव है। उनका भारत के सबसे बड़े क्रैकर प्लांट - पानीपत नेफ्था क्रैकर कॉम्प्लेक्स - जो इंडियनऑयल के पेट्रोकेमिकल्स व्यवसाय का एक प्रमुख घटक है, के साथ एक दशक पुराना जुड़ाव रहा है। वे भारतीय तेल एवं गैस उद्योग के उन चुनिंदा टेक्नोक्रेटों में से एक हैं जो रिफाइनरी-पेट्रोकेमिकल्स एकीकरण के सभी पहलुओं में पारंगत हैं। ये पहलू दीर्घावधि में तेल और गैस उद्योग की स्थिरता के लिए आवश्यक हैं। श्री वैद्य ने हमेशा उत्पादों की सुचारू आपूर्ति, पर्यावरण के अनुकूल व्यापार संचालन और स्वस्थ रिफाइनिंग मार्जिन सुनिश्चित करने पर जोर दिया है। इंडियनऑयल में निदेशक (रिफाइनरीज) और कार्यकारी निदेशक (रिफाइनरी संचालन) के रूप में उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान कई रिफाइनरी विस्तार और पेट्रोकेमिकल परियोजनाओं की अगुवाई की। उन्होंने देश भर में बीएस-6 ग्रेड ऑटो ईंधन को समय पर उपलब्ध कराया, आईएमओ मानदंडों के अनुरूप बंकर ईंधन (0.5ः सल्फर) की आपूर्ति शुरू की तथा हिमालय के अत्यधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों के लिए एक विशेष शीतकालीन-ग्रेड डीजल को भी उपलब्ध कराया। साथ ही उन्होंने कंपनी के हरित ऊर्जा कार्यक्रम के तहत रिफाइनरियों में जैव ईंधन और 2 जी / 3 जी इथेनॉल-मिश्रित ईंधन से संबंधित परियोजनाओं को भी पेश किया। तकनीकी महारत, भविष्य के लिए तैयार व्यावसायिक कौशल और जन-केंद्रित नेतृत्व शैली के धनी श्री वैद्य एक एकीकृत ऊर्जा प्रमुख के रूप में निगम के विकास के लिए अभिनव प्रौद्योगिकी और टिकाऊ ईंधन समाधान की एक सुदृढ़ दृष्टि रखते हैं।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post