पं खुषिलाल आयुर्वेद  केन्द्र स्वास्थ्य विभाग के नियमों की उड़ा रहा धज्जियां : एनएसयूआई

भोपाल । मध्य प्रदेश आयुर्विज्ञान द्वारा आयुर्वेद ( बीएएमएस ) की आयोजित की जा रही जिसका भोपाल में एकमात्र परीक्षा केंद्र पंडित खुशीलाल होम्योपैथिक महाविद्यालय जोकि कोविड-19 सेन्टर भी है |एनएसयूआई मेडिकल विंग के प्रदेश समन्वयक रवि परमार ने बताया कि पहले तो छात्रों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा परीक्षाओं को स्थगित कर जनरल प्रमोशन का झूठा आश्वासन दिया गया जिसके लिए तब यूजीसी या अन्य किसी भी संस्था की राय नही ली गई, परन्तु अब जब कोरोना मप्र में विकराल रूप ले रहा है तब यूजीसी का हवाला दे कर परीक्षाओ के नाम पर छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है जिसका हम विरोध करते है साथ ही छात्रों के प्रति सरकार औऱ विवि का रवैया कितना उदासीन है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की परीक्षा कोविड सेंटर पर करवाई  जा रही थी लेकिन उसके बाद भी विश्वविद्यालय अपनी मनमानी के चलते परीक्षा का आयोजन करवा दिया लेकिन यहां परीक्षा  से हजारों छात्रों के स्वास्थ्य और जान पर खतरा मंडरा रहा है।परमार ने कहा कि परीक्षा केंद्र नियंत्रक द्वारा स्वास्थ्य विभाग के जो नियम है उनका बिल्कुल भी पालन नहीं किया जा रहा है परीक्षा केंद्र पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नहीं हो रहा है छात्र-छात्राएं बिना सोशल डिस्टेंसिंग के पालन की परीक्षा दे रहे हैं धारा 144 के अंतर्गत शासन के नियम तोड़ने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करवाने को लेकर परीक्षा केंद्र नियंत्रक पर तत्काल एफआईआर. दर्ज कर कार्रवाई की जाए ।


रवि परमार का कहना है कि हजारों छात्र-छात्राओं के स्वास्थ्य और जान के साथ खिलवाड़ करने करने का अधिकार इनको किसने दिया परीक्षा केंद्र पर जिस तरह से नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है इससे हजारों छात्र छात्राओं की जान पर खतरा मंडरा रहा है ।


 


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post