सांवेर क्षेत्र में 3.15 मैगावाट क्षमता के दो ग्रिड बनेंगे, जल्द होगा कार्य शुरू

तीन करोड़ लागत से, दो माह में किया जायेगा कार्य को पूरा


इंदौर। जिले के सांवेर क्षेत्र के बिजली व्यवस्था मे सुधार के लिए दो नए ग्रिड बनाकर करीब 10 हजार उपभोक्ताओं को फायदा पहुंचेगा। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट के निर्देश पर बिजली कंपनी ने इन कार्यों की ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत स्वीकृति दी है। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के इंदौर ग्रामीण अधीक्षण यंत्री डीएन शर्मा ने बताया कि सांवेर के ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं ने नए ग्रिड की मांग रखी थी, इस संबंध में मंत्री श्री सिलावट ने प्रबंध निदेशक विकास नरवाल से चर्चा की। इसके बाद प्रस्ताव का अनुमोदन कर नए ग्रिडों की विधिवत मंजूरी दी गई है। क्षेत्र के बरदरी में 33/11 केवी का 3.15 मैगावाट क्षमता का ग्रिड बनेगा। श्री शर्मा ने बताया कि इस ग्रिड से बरदरी, भंवरासला, कुमेड़ी, बारोली, रेवती आदि गांवों के करीब 7000 उपभोक्ता लाभान्वित होंगे। इसी तरह कनाडिया के पास बुरानाखेड़ी गांव में 33/11 केवी का ग्रिड बनेगा। यह भी 3.15 मैगावाट क्षमता का होगा। इस ग्रिड से बुरानाखेड़ी, साहूखेड़ी, खत्रीखेड़ी, बेगमखेड़ी, जमाल पिपलिया, बरोदकारा, हरनखेड़ी, छिटकाना, बिसनखेड़ा, खेमाना, चौहानखेड़ी, खातीपिपलिया ग्रामों के करीब 3000 उपभोक्ता लाभान्वित होंगे। दोनों ही ग्रिडों एवं उनसे जुड़ी लाइनों पर लगभग 3 करोड़ रूपए व्यय किए जाएंगे। इन दोनों ग्रिड से विद्युत प्रदाय 15 अगस्त से पहले किए जाने के मद्देनजर कार्य प्रारंभ करने के निर्देश भी दिए गए है।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post