रेलवे गार्डों ने काली पटटी बांध कर किया कार्य, 5 जून को ट्वीटर पर विरोध

भोपाल। भोपाल मंडल के समस्त रेलवे गार्डों द्वारा बहु कौशल के नाम से कुछ पदों को मर्ज करने गठन की गई कमेटी के विरोध में मंगलवार को काली पटटी बांध कर कार्य किया गया । रेलवे गार्ड रोमेश चौबे ने बताया कि रेलवे बोर्ड द्वारा बहु कौशल(मल्टी स्कील)के नाम पर रेलवे के विभिन्न पदों को आपस में मिलाने (एमईआरजीई)के लिए एक कमिटी का गठन किया गया है। इसी कड़ी में गार्ड कैडर का मर्जर टीएनसी, एससीओआर, टीआई में करना प्रस्तावित है। चूंकि गार्ड रनिंग कर्मचारी की श्रेणी में आता है, जिसके कारण वेतन, भत्ते,व अन्य सुविधाएं अलग तरीके से निर्धारित होता है। पुनर्गठन और बहू कौशल के नाम पर कैडर का मर्जर होता है तो बहुत सारे भत्तों और सुविधाओं से वंचित होना पड़ सकता है। एआईजीसी की केंद्रीय कार्यकारणी ने सभी के सहयोग से रेलवे बोर्ड द्वारा गठित इस कमेटी व मर्जर का विरोध किया गया ै। इस कड़ी में सबसे पहले मर्जर कमेटी के सभी सदस्यों को ट्विटर के माध्यम व तत्पश्चात ईमेल व मंडल में डीआरएम के माध्यम से मेमोरेंडम देने का कार्य किया जा रहा है। जिसमें बड़ी संख्या में गार्डो ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित की है। ऑल इंडिया गार्ड कॉउन्सिल के महामंत्री एसपी सिंह ने 2 मई मंगलवार को सभी गार्डो को इस मर्जर के विरोध में काली पट्टी लगा कर ड्यूटी करने के लिए बोला था। गार्ड कैडर के अस्तित्व को बचाने के लिए आपसी मनमुटाव को भूल पूरे मन से इस मुहिम में साथ आकर विरोध करें और सम्मान की लड़ाई में जुट जाएं। पूरे देश में गार्डों ने अपने अपने स्तर पर इसका विरोध किया गया। आगामी 5 जून को ट्वीटर के माध्यम से इस मर्जर कमेटी का विरोध किया जाएगा। क्योंकि जब कैडर ही नही होगा तो कार्य संबंधी आपसी मनमुटाव किससे करोगे।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post