कोरोना के विरुद्ध 500 सर्वे दल गठित, 51 स्लम बस्तियों मे सार्थक एप से करेंगे जाँच

घनी बस्तियों, झुग्गियो में अब सार्थक एप से सर्वे, सैंपलिंग और स्क्रीनिंग के लिए महाअभियान शुरू


समन्वय भवन में प्रशिक्षकों द्वारा सर्वे दलों को प्रशिक्षण दिया गया


भोपाल । कोरोना संक्रमण को रोकने शहर की घनी बस्तियों, झुग्गियों और स्लम एरिया में अब सार्थक एप के माध्यम से व्यापक सर्वे, सैंपलिंग और स्क्रीनिंग के लिए महाअभियान चलाया जायेंगा। इस मौके पर नवागत कलेक्टर अविनाश लवानिया ने उपस्थित आशा और आंगनवाड़ी सहित सर्वे टीम का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आपके द्वारा किए जा रहे कार्य के माध्यम से ही हम शहर को इस संक्रमण से मुक्त रखने का कार्य कर सके हैं। आप की दक्षता और कार्यशैली ने इस संक्रमण को काफी हद तक सीमित कर रखा है। सर्वे दल से कहा कि आप सभी लोग सुरक्षा उपाय अपनाते हुए कार्य करें। इसके लिए शहर में कुल 500 सर्वे दलों का गठन किया गया है। इन दलों में 1500 से अधिक व्यक्ति सम्मिलित है, प्रत्येक दल 50-50 घरों का प्रतिदिन सर्वे करेगा। यह सर्वे दो दिन चलेगा, लगभग 4 से 5 लाख लोगों का सर्वे होगा। आज समन्वय भवन में 1 दिवसीय प्रशिक्षण में दो सत्रों में प्रशिक्षक द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। गठित दल शहर में चिन्हित 51 घनी और सघन बस्तियों में व्यापक स्क्रीनिंग और सैंपलिंग का कार्य करेंगे। यह सर्वे दल अति मंद, मंद और कोरोना लक्षणों वाले संक्रमित व्यक्तियों के उपचार के लिए निरंतर बस्तियों में सघन भ्रमण कर उन्हें चिन्हित करेंगे। इन दलों के प्रशिक्षण सेमिनार का आयोजन किया गया था। जिनमें इन सर्वे दलों में आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सुपरवाईजर, स्वास्थ्य विभाग की टीम आदि उपस्थित थे। सेमिनार में वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से सभी उपस्थितजनों को कार्यस्थल पर कार्य करनें, सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करनें, अनिवार्य मास्क लगानें, सेम्पलिंग और स्क्रीनिंग का महाअभियान कैसे करें और इसे महाअभियान को युद्ध स्तर पर पूरा करनें का प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर कलेक्टर ने उपस्थित आशा-आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद भी किया और उनका निराकरण भी किया।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post