किल कोरोना अभियान शुरू, सघन बस्तियों में होगा हेल्थ सर्वे और जांच

सर्वे, स्क्रीनिंग और सेंपलिंग टीम पूरी इमानदारी से करें कार्य: लवानिया


जल्द ही कोरोना मुक्त शहर होगा


भोपाल। किल कोरोना अभियान के तहत जिले में व्यापक और सघन हेल्थ सर्वे और जांच का महा अभियान शहर की 51 सघन और स्लम बस्तियों में चलाया जाएगा। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने सभी जिला अधिकारियों, स्वास्थ्य विभाग की टीम के सदस्यों से कहा है कि आज से किल कोरोना महाअभियान की शुरुआत वृहद स्तर पर की जाएगी। इसमें बनाये गए सभी नोडल अधिकारियों, आशा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, सुपरवाइजर पुलिस सहित विभिन्न दलों के सहयोग से हम भोपाल शहर को कोरोना संक्रमण से मुक्त कर सकेंगे। यह बात उन्होंने समन्वय भवन में संपन्न हुई किल कोरोना अभियान के नोडल अधिकारियों की बैठक में कही। शहर को कोरोना संक्रमण से मुक्त करने के लिए आवश्यक है कि हम सब मिलकर अपने अथक प्रयासों से अपना योगदान दें। वायरस को नियंत्रण और स्वास्थ्य जागरूकता के इस महत्वपूर्ण अभियान में सरकार और समाज साथ-साथ कार्य करेंगे। किल कोरोना अभियान प्रत्येक परिवार को कवर करेगा। कलेक्टर श्री लवानिया ने कहा इस अभियान को सभी अधिकारी कर्मचारी पूरी इमानदारी से कार्य कर सफल बनाएं जिससे शहर को जल्द ही हम संक्रमित से मुक्त करा सकें। उन्होंने कहा कि इसके लिए सर्वे दलों की टीम बनाई गई है जिनमें आशा, आंगनवाड़ी सुपरवाइजर, डॉक्टर और एएनएम रहेंगे जो शहर की 51 स्लम बस्तियों और सघन एरिया में व्यापक सर्वे, स्क्रीनिंग और सैंपलिंग का कार्य करेंगे। इन दलों को 3 भागों में बाँटा गया है, जिनमे पहले सर्वे, दूसरी स्क्रीनिंग और तीसरे पर सैंपलिंग दल नियुक्त किए गए हैं। सर्वप्रथम सर्वे दल अति मंद, मंद, और लक्षण वाले व्यक्तियों की जानकारी सार्थक ऐप के माध्यम से साझा की जाएगी जिसके पश्चात् स्क्रीनिंग टीम इन सघन बस्तियों में पहुंचकर सभी लोगों की स्क्रीनिंग करेगी। इस दौरान संक्रमित, सर्दी खासी, बुखार या अन्य बीमारियों से चिन्हित व्यक्तियों की वृहद स्तर पर सेंपलिंग की जायेगी। सर्वे के बाद सर्दी खासी और बुखार के मरीजों की ही एंट्री सार्थक एप में की जाए। उसी आधार पर स्क्रिनिग और डॉक्टर के कहने के बाद उसकी सेंपलिंग की कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि शहर में डोर टू डोर विस्तृत सर्वे के माध्यम से संदिग्ध रोगी की शीघ्र पहचान और उपचार का कार्य किया जायेगा। घर-घर पहुंच रहे सर्वे दल को आवश्यक जानकारी देकर सहयोग किया जाएगा। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए भोपाल शहर की घनी बस्तियों में कुल 500 सर्वे दलों का गठन किया गया है। कलेक्टर ने कहा कि सभी अधिकारी कर्मचारी लगन और पूरी ईमानदारी से आगामी दो दिनों में पूरे शहर को स्क्रीनिंग, सेंपलिंग और सर्वे का कार्य पूरा कर कोरोना मुक्त बनाने का कार्य करे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नगर निगम द्वारा शहर की इन स्लम बस्तियों और एरिया में व्यापक स्तर पर सेनेटाईजेशन और जलभराव की स्थिति में जल निकासी का भी कार्य सुनिश्चित किया जाएगा। समीक्षा के दौरान आयुक्त नगर निगम श्री वीएस कोलसानी, अपर कलेक्टर अनिल वशिष्ठ, सतीश कुमार एस, जिला पंचायत सीईओ विकास मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post