पैदल चलकर आ रहे श्रमिकों को कलेक्टर के प्रयास ने पहुंचाया अपने गृह नगर

192 श्रमिकों को बस परिवहन से विभिन्न जिलों के लिए भेजा गया*

 

भोपाल। संकटकालीन परिस्थिति और लॉक डाउन के चलते कई श्रमिक अन्य राज्यों और जिलों में फंसे हुए हैं जिसके चलते वे अपने गृह नगर जाने में असमर्थ थे। वही इस और प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्णय और उनके प्रयासों से अब यह सार्थक हो रहा है कि अन्य जिलों में फंसे हुए श्रमिकों को उनके गृह निवास पहुंचाया जाए। आज भोपाल से मुबारकपुर बाईपास और देवास बाईपास पर करीब 192 श्रमिक विभिन्न जिलों से पैदल चलकर आ रहे थे। कलेक्टर श्री तरुण पिथोड़े द्वारा इसकी सूचना प्राप्त होते ही तत्काल इन श्रमिकों के लिए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई गई। साथ ही उन्हें इनके ग्रह नगर भेजने का प्रबंध किया गया। जिला प्रशासन द्वारा इन श्रमिकों को भोजन-पानी एवं दैनिक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराई गई। वही इन श्रमिकों की स्वास्थ्य दलो द्वारा मेडिकल जांच की गई और उन्हें बस परिवहन के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न जिलों ललितपुर, सीधी, दमोह, शहडोल और रीवा के लिए मुबारक पुर जोड़ और सुखीसेवनिया जोड़ से रवाना किया गया। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post