मप्र में स्वास्थ्य विभाग अन्य विभागों के कर्मियों का वेतन दुगुना किया जाये: संविदा महासंघ

भोपाल। हरियाणा में कोरोना वायरस के रोकथाम व पीडि़तों व अन्य व्यवस्थाओं में लगे मप्र के कर्मचारियों को भी दोगुने वेतन को लेकर कर्मचारी संघ ने मांग की है। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से माँग की है कि विषम परिस्थितियों में प्रदेश स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी दिन रात 24 घंटे अपनी सेवायें दे रहे हैं, ऐसे कर्मचारियों को हरियाणा की तर्ज पर दुगुना वेतन दिया जाना चाहिये, स्वास्थ्य विभाग तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, और आयुष विभाग के को मिलाकर 24 हजार संविदा कर्मचारी, अधिकारी, पैरामेडिकल स्टाफ भी अपनी सेवाएं दे रहे हैं, इन संविदा कर्मचारियों को मात्र 15 से 25 हजार रुपये तक वेतन दिया जाता है। ना तो मंहगाई भत्ता, अनुकम्पा नियुक्त, मंहगाई भत्ता, या अन्य कोई सुविधा नहीं दी जाती है, अभी तक संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों 5 जून 2018 की नीति अनुसार 90 प्रतिशत वेतनमान का लाभ नहीं दिया गया है।

मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध किया है कि करोना महामारी में स्वास्थ्य विभाग , बिजली विभाग , गृह पुलिस विभाग , राजस्व विभाग , नगर निगम , खाद्य एवं आपूर्ति निगम आदि में कार्यरत संविदा और दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को भी हरियाणा सरकार की तर्ज पर दुगना वेतन दिया जाये।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post