अतिथि शिक्षकों का मानदेय भुगतान होना चाहिए। प्रभुराम चौधरी

भोपाल। पूर्व स्कूल शिक्षा मंत्री ने लॉक डाउन के दौरान स्कूल, महाविद्यालय व विश्वविद्यालय के  अतिथि शिक्षकों का मानदेय भुगतान किये जानो के लिए कहा है। पूर्व स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी का कहना है कि उनका मानदेय वैसे भी बहुत कम होता है जिसके चलते पहले से ही वह आर्थिक संकट से गुजर रहे होते हैं । वहीं अगर इस लॉकडाउन के दौरान उनका मानदेय नहीं दिया गया तो उनकी पारिवारिक गुजारे की स्थिति अधिक दयनीय हो जाएगी। इसलिए सर्व प्रथम स्कूल, माहविद्यालय व विश्वविद्यालय में पदस्थ अतिथि शिक्षकों की सभी स्थितियों को देखते हुए मानदेय का भुगतान किया जाना चाहिए। 


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post