अतिरिक्त सहायता नहीं तो मप्र सपनि कर्मचारियों को12माह से रोका गया वेतन ही भुगतान करा दें-इंटक

भोपाल। करोना वायरस के चलते प्रदेश व केन्द्र सरकार के द्वारा सभी कर्मचारियों को व गरीबों को अतिरिक्त सहायता राशि उपलब्ध कराई जा रही है वहीं मप्र सपनि कर्मचारियों को पिछले कई महिनों से वेतन का भुगतान नहीं किया गया है । जिसको लेकर इंटक के द्वारा केन्द्र व राज्य सरकार से वेतन भुगतान को लेकर आग्रह किया गया है। कोरोना वायरस के चलते देश में चल रहे लॉकडाउन में मप्रसपनिकर्मचारियों को प्रदेश व केन्द्र सरकार अतिरिक्त सहायता नहीं कर पा रही है तो उनका रूका हुआ वेतन का भुगतान ही करादे यह बात मप्र ट्राँसपोर्ट वर्कर्स फेडरेशन इंटक के महामंत्री प्रवेश मिश्रा ने कही है। उन्होंने आगे कहा कि भारत सरकार एवं मप्र सरकार का ध्यान मप्र सपनि कर्मचारियों की वेतन भुगतान न होने की समस्या की ओर दिलाते हुये कहा है कि सम्पूर्ण देश में कोविड19 कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन। मप्र सड़क परिवहन निगम कर्मचारियों को 12 माह से वेतन नहीं मिला,गरीबी रेखा के कार्ड नहीं तो लॉकडाउन के चलते निशुल्क राशन, गैस सिलेंडर नहीं हैं। घर से वाहर निकलने पर पावन्दी। मुख्यमंत्री मप्र और भारत सरकार के श्रममंत्री संतोष गंगवार बताएं कि मप्र सड़क परिवहन निगम के कर्मचारी और उनके परिवार अपना पेट कैसे भरें? जो हेल्पलाइन नंबर श्रम मंत्रालय भारत सरकार ने मप्र के लिये जारी किये हैं। उनके संज्ञान में यह समस्या पहले से है वे कुछ नहीं कर पा रहे हैं। इसलिये मुख्यमंत्री और श्रममंत्री भारत सरकार वास्तव में श्रमिक मजदूर हितैषी हैं तो सपनि कर्मचारियों को अतिरिक्त सहायता नहीं तो उनका 12 माह से रुका हुआ वेतन ही भुगतान करा दो। 


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post