प्रदेश में मौसम ने ली करवट: 20 जिलों में बारिश के साथ ओले गिरे

भोपाल। एक तरफ कोरोना से जंग चल रही है, तो दूसरी ओर अचानक प्रदेश में मौसम का मिजाज बदलने से खासकर किसानों के चेहरों पर चिंता की रेखाएं खिंच गई हैं। गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात से अचानक बदल गया है। 20 जिलों में तेज बारिश के साथ ओले गिरे हैं। इससे खरीफ की फसल को बड़ा नुकसान होने की संभावना है। सीहोर के इछावर में ओले गिरने के बाद खेत में फसल देखने जा रहे पति-पत्नी की आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई। मौसम में और बदलाव होने की संभावना व्यक्त की गई है।

गुरुवार को ही मौसम ने प्रदेश के मौसम में एकाएक बदलाव के साथ गरज-चमक, बारिश और ओले गिरने की चेतावनी जारी की थी। फिलहाल इंदौर, भोपाल, गुना, ग्वालियर, उज्जैन, शाजापुर, रतलाम, खंडवा, धार, रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, राजगढ़, देवास, शिवपुरी, मुरैना, भिंड और श्योपुर में बारिश के साथ ओले गिरे हैं। इन सभी जिलों में खरीफ की फसल को नुकसान होने की आशंका है। कई जिलों में अभी रुकरुक कर बारिश हो रही है।

भोपाल समेत मध्य प्रदेश के मौसम को प्रभावित करने वाले कारक पहला हवा के ऊपरी भाग में 1.5 किलोमीटर पर दक्षिण गुजरात एवं उसके आसपास के इलाके में चक्रवात बना हुआ है। दूसरा दक्षिण पूर्व राजस्थान से कोस्टल कर्नाटक तक एक द्रोणिका का 900 मीटर की ऊंचाई तक बनी हुई है जो गुजरात से होकर गुजर रही है। तीसरा एक पश्चिमी विक्षोभ हवा के ऊपरी भाग में 1.5 से 3.1 किलोमीटर के ऊपर जम्मू कश्मीर और उससे लगे उत्तरी पाकिस्तान में पश्चिमी विक्षोभ के रूप में बनी हुई है एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ 30 मार्च को प्रभावित होने की संभावना है। 

 इछावर में पति-पत्नी की मौत

गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात से बारिश के साथ गिर रहे हैं। सीहोर जिले के इछावर में खेत में फसल को देखने जा रहे पति-पत्नी की आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दोनों तड़के खेत देखने के लिए निकले थे। घटना की जानकारी करीब 9 बजे लोगों को उस वक्त लगी जब दूसरे किसान खेत देखने पहुंचे। पति-पत्नी अपने खेत की मुंडेर पर झुलसी अवस्था में मिले। ग्रामीणों ने पुलिस और प्रशासन को घटना की जानकारी दी। किसान के 3 छोटे-छोटे बच्चे हैं। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post