ज्योतिरादित्य सिंधिया हो सकते हैं बीजेपी के, गुजरात राजघराने की अहम भूमिका

आज थम सकती हैं कमलनाथ सरकार की सांस


भोपाल: प्रदेश में सरकार को लेकर चल रहा विवाद अब शांत होने की कगार पर है। ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर चल रहीं अटकलें उनके बीजेपी में शामिल होकर आज शाम  तक समाप्त हो सकती हैं।  इस पूरे मामले में गुजरात के राजघराने परिवार की अहम भूमिका बताई जा रही है।


मध्य प्रदेश  में चल रहे राजनीतिक नाटक का पर्दा अब जल्द ही गिर सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज होली के महापर्व पर कांग्रेस के बड़े नेताओं में शुमार ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस को 'अंतिम नमस्कार' कह सकते हैं.


माना जा रहा है कि ये फैसला सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र् मोदी से मुलाकात के बाद लिया है. ये मुलाकात बड़ौदा के राजपरिवार के जरिए कराई गई है। मध्यप्रदेश के इस पूरे ऑपरेशन की कमान बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को दी गई थी. वैसे आज सिंधिया को होली के अवसर पर ग्वालियर जाना था, पर उन्होंने अब वहां जाने का अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया है।


सरकार के गठन से लेकर राज्यसभा सदस्य तक के बीच में हुए  विवादों का ही परिणाम


राजनीति के क्षेत्र में कुछ दिनों से प्रदेश में चल रहा विवाद  शांत होने की कगार पर है। राजनीति हलकों की बात करें तो सभी के अपने अलग कयास लगाए जा रहे हैं। वहीं कांग्रेस का वरिष्ठ नेतृत्व भी  शायद इसे शांत करने में भी पूरा जोर लगा रहा है। कॉग्रेस में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री का सरकार में दखल व मंत्रिमंडल के गठन में अपनी अहम भूमिका निभाई। जिसमें उन्होंन अपने खेमें के अधिक विधयकों को मंत्रि बनाने में सफल रहे । अच्छे वह कसमलनतः को ब्लैकमैल करके हो या कोई अन्य वजह। इस मंत्रिमंडल के गठन के बाद से ही सिंधिया अपनी ही सरकार या पार्टी के नेतृत्व से नाराज चल रहे थे इस बात का उन्होंने कमल नाथ व शीर्ष नेतृत्व को पार्टी के खिलाफ चाहै नागरिकता कानून हो या अन्य मुद्दे खुलकर बयानबाजी करते रहे। उसी का नतीजा है जो कांगेस की अनदेखी व बीजेपी से बढ़ती  नजदीकियों ही परिणाम आज बगावत  के रूप  में सामने आया है। अगर आज ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल होते हैं तो बड़ोदा राजघराने या कमें की उनकी ससुराल पक्ष की अहम भूमिका के साथ ही उनके परिवार के पहले से शीर्ष पदों को इस भूमिका में  नजर अंदाज़ नहीं  किया जा सकता।


 


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post