युवक की हत्या में 4 को उम्रकैद

छतरपुर। नवयुवक की गला घोंटकर हत्या करने और सबूत छिपाने के लिए लाश को गाड़ी में बैठाकर कुएं में फेकने के मामले में लवकुशनगर कोर्ट ने 4 आरोपियों को उम्रकैद के साथ 8 हजार रुपए के जुर्माना की सजा दी है। 

एडवोकेट लखन राजपूत ने बताया कि 18 अक्टूबर 2016 को रामकिशोर शुक्ला ने थाना सरवई में रिपोर्ट की थी कि 17 अक्टूबर को रात 8 बजे उसका बेटा सुशील गांव के ही सागर पांडे की गाड़ी में बैठकर कहीं चला गया था जो वापस नहीं लौटा है। जांच के दौरान सुशील का शव ब्रजमोहन खरे निवासी बछौन के कुएं से बरामद हुआ। पुलिस ने जांच में पाया कि आरोपी आशीष शुक्ला, सागर पांडे ने 17 अक्टूबर को सुशील का गला घोटकर हत्या की थी। अपराध से बचने के लिए सुशील की लाश को बोलेरो कैंपर यूपी 90 टी 4475 में बैठा कर कुएं में फेक दिया था। पुलिस ने अभिलाख सिंह निवासी बछौन, सागर पांडे सरबई, रामखिलावन उर्फ मिक्खी दीक्षित बछौन, आशीष शुक्ला बछौन और कंधी लाल शुक्ला को गिरफ्तार कर मामला कोर्ट के सुपुर्द किया। अभियोजन पक्ष की ओर से एडीपीओ श्रीकेश यादव ने पैरवी करते हुए मामले के तथ्य एवं सबूत कोर्ट में पेश किए। लवकुशनगर के अपर सत्र न्यायाधीश केएन अहिरवार की अदालत ने आरोपी सागर, अभिलाख सिंह, रामखिलावन और आशीष को दोषी मानते हुए सुशील की हत्या के आरोप में आजीवन कारावास के साथ दो-दो हजार रुपए के जुर्माना की सजा सुनाई। मामले के सहआरोपी कंधी लाल को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया।  

 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post