भेल प्रशासन मौन, लकड़ी तस्कर अंधाधुंध हरे पेड़ों की कर रहे कटाई

भोपाल। राजधानी शहर में स्थित भेल कंपनी के गेट नंबर पांच के समाने से लेकर गुरूद्वारा तक लगे हरे पेड़ों की कटाई दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है फिर भी भेल प्रशासन अपनी आंखें बंद करके बैठी हुई है जिसमें साफ़ जाहिर होता है कि कहीं ना कहीं जिम्मेदार अधिकारियों की सांठगांठ लकड़ी तस्करों के साथ है, इसलिए भेल प्रशासन इन लकड़ी तस्करों के खिलाफ किसी भी प्रकार का कोई कार्यवाही नहीं कर रही है। जिसमें लकड़ी तस्करों के द्वारा फलदार पेड़ों की अवैध कटाई जोरों से लगातार खुलेआम जारी है। वहीं लोगों के द्वारा बताया जा रहा है कि इस घटना को संबंधित भेल प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों को अवगत कराया गया था  फिर भी आज तक भेल प्रशासन मौन साध हुई है। बीते वर्षों से लगे फलदार पेड़ों की कटाई लकड़ी तस्करों के द्वारा की जा रही थी, जबकि पेड़ कटाने वाले तस्करों के पास  भेल प्रशासन का कटान हेतु कोई आदेश नहीं था फिर भी लकड़ी तस्करों के द्वारा पेड़ों की कटाई लगातार कर रही है। जिसमें सड़कें के किनारे लगें वषों के फलदार हरे पेड़ पूरी तरह विलुप्त होते नजर आ रहे हैं।


इस तरह से लकड़ी तस्कर करते  हैं पेड़ों की कटाई-


सुत्रो के हवाले से खबर मिल रही है कि  इन सड़क के किनारे वर्षों से लगे फलदार हरे पेड़ों की आधी कटाई दिन में करते हैं और कुछ दिन बाद वही कटी लकड़ी सुख जाती है जिसमें उस सुखी लकड़ियों को रात में  लकड़ी तस्करों के  द्वारा  मोटी रकम हेतु ट्रेक्टर ट्राली से उठाकर लकड़ी व्यापारियों को बेच दिया जाता हैं। जिसमें दिन-प्रतिदिन इतने घने फलदार हरे पेड़ों की नाश किया जा रहा है। उक्त अंधाधुंध पेड़ों की कटाई की जांच कराकर दोषियों पर कठोर कार्रवाई करके लोगों को शुद्ध वातावरण देने में सहयोग प्रदान करें। उक्त जानकारी सम्बंधित विभाग को आवश्यक कार्रवाई हेतु अग्रेषित कर दी गई है। बहुत जल्द उक्त मामले पर कार्यवाही की जायेगी।


साभार


भोपाल पुलिस व्हाटसअप ग्रुप 


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post