Featured

कुएं में गिरी बॉल निकालने की कोशिश में 12 साल की बच्ची की डूबने से मौत

भोपाल । शहर के कमला नगर थाना इलाके में कुएं में गिरने से 12 साल की मासूम बच्ची की जान चली गई। अकेले खेलते समय उसकी बॉल कुंए में गिर गई थी। बॉल निकालने की कोशिश में मासूम कुंए में जा गिरी और डूबने से उसकी जान चली गई। थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मूल रुप से ग्राम खजूदी गुना की रहने वाली 12 वर्षीय चंदा पिता रवि वाल्मीकि के दादा काले वाल्मीकि पुलिस लाइन नेहरू नगर के पीछे रहते हैं। वह निजी सफाईकर्मी के तौर पर हैंपुलिस लाइन में साफ सफाई का काम करते हैं। करीब 15 दिन पहले चंदा अपने दादा के घर मेहमान आई थी। बीती सुबह बच्ची के दादा काले वाल्मीकि सहित परिवार के अन्य लोग भी अपने काम पर गए चले थे, और चंदा घर पर अकेली थी। बताया गया है की सुबह करीब साढ़े 10 बजे चंदा घर के बाहर बॉल से खेल रही थी। खेलते समय उसकी बॉल पास बने कुएं में गिर गई। बॉल निकालने के लिए चंदा कुएं के पास गई और झुककर बॉल निकालने का प्रयास करने लगी। अचानक ही उसका संतुलन बिगड़ गया और वह कुंए में गिर गई। घटना के समय कुएं से थोड़ी दूरी पर बने मंदिर में महिला पुलिसकर्मी अपने पति और बच्चों के साथ आई पूजा के लिये आई थी। उन्होंने चंदा को कुएं में गिरता देख तत्काल ही मदद के लिये शोर मचाते हुए दौड़ कर कुएं के पास पहुचें। लेकिन उस समय आसपास कोई न होने के कारण उन्हें मदद नहीं मिल सकी। दंपती ने प्रयास करते हुए कुएं के अंदर रस्सी डालकर बच्ची को बाहन निकालने की कोशिश की लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। दंपती से मिली सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। वहीं बाद में हादसे की जानकारी मिलने पर बच्ची परिजन और पड़ोसियों भी वहॉ आ गए। लोगो ने जैसै-तैसै चंदा को कुएं से निकालकर पास में स्थित निजी अस्पताल पहुंचाया जहॉ डॉक्टरो ने शुरुआती चेकअप के बाद ही मासूम को मृत घोषित कर दिया। मर्ग कायम कर शव को पीएम के बाद परिवार वालो को सौंपते हुए पुलिस आगे की जॉच कर रही है।

Related Articles

Back to top button